syria us strike ff 152367

रासायनिक हमलों का हवाला देकर अमरिका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने सीरिया में सैन्य कार्रवाई को मंजूरी दे दी है. जिसके बाद उन तीनों जगहों को मिसाइलों से निशाना बनाया गया है. जहाँ रासायनिक हमले हुए थे. इस हमले में ब्रिटेन और फ्रांस भी अमेरिका का साथ दे रहा है.

देश को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने कहा “फ्रांस और ब्रिटेन के साथ मिलकर एक संयुक्त अभियान शुरू कर दिया गया है.” साथ ही ट्रम्प ने सीरिया की असद सरकार के समर्थक देशों रूस और ईरान से अपनी नीतियों में बदलाव करने को भी कहा है.

सीरियाई राजधानी दमिश्क के पास  से विस्फोटों की खबरें मिल रही है. सीरिया के सरकारी टेलीविजन पर भी अमेरिका के फ्रांस और ब्रिटेन के साथ मिलकर सीरिया पर हमला करने की खबरें दिखाई जा रही हैं.

इन जगहों पर किये गए हमले –

  • दमिश्क का रिसर्च सेंटर जहां केमिकल बायलोजिकल हथियार बनाए जाते हैं
  • होम्स के पश्चिम में स्थित केमिकल हथियार का स्टोरेज सेंटर
  • होम्स के पास एक कमांड पोस्ट जहां हथियारों का जखीरा भी है

अमेरिका के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हीथर नौअर्ट ने कहा कि रासायनिक हमलों के पीछे सीरिया की सरकार का हाथ है. सैकड़ों लोगों की मौत के लिए वही जिम्मेदार है. हमारे पास इसके सबूत हैं और जुटाए जा रहे हैं.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें