antt

जम्मू के कठुआ जिले में मुस्लिम समुदाय से बदला लेने के मकसद से 8 साल की मासूम असीफा के साथ उग्र हिंदुवादियों ने  मंदिर में लगातार तीन दिन सामूहिक बलात्कार कर पत्थरों से कुचल कर हत्या कर देने के मामले में संयुक्त राष्ट्र ने कड़ी टिप्पणी की है.

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंतोनियो गुटेरेस ने इस मामले को भयावह बताया है. ऐसे में अब ये मामला अंतरराष्ट्रीय मुद्दा बन चूका है. जिसके चलते पूरी दुनिया में भारत की बदनामी भी हो रही है.

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंतोनियो गुटेरेस ने इस मामले को भयावह बताते हुए उम्मीद जताई है कि आरोपितों को उचित सजा मिलनी चाहिए. उन्होंने दोषियों को सजा मिलने की उम्मीद भी जताई.

asifa

बता दें कि असीफा को 10 जनवरी को उसके गांव के पास से अगवा किया गया था. उसे नशे के हाई डोज में रखा गया, और कई दिन तक उसके साथ कई लोगों ने मन्दिर में गैंगरेप किया. जिनमे एक रिटायर्ड सेल्स ऑफिसर, एक पुलिस वाला और 15 साल का एक युवक शामिल है.

7 दिनों तक मंदिर में रेप करने के बाद असीफा की पत्थरों से कुचल कर हत्या कर दी गई. असीफा का 17 जनवरी को क्षत-विक्षत शव मिला. इस मामले की जांच के लिए गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) ने अब तक दो विशेष पुलिस अधिकारियों और एक हेड कांस्टेबल सहित आठ लोगों को गिरफ्तार किया है. हेड कांस्टेबल पर सबूत नष्ट करने के आरोप हैं.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें