syy2

सीरिया के पूर्वी घोउटा में मौत का तांडव रुकने का नाम नहीं ले रहा है. इस बार एक स्कूल पर मिसाइल से हमला हुआ. जिसमे 15 बच्चों और दो महिलाओं की मौत हो गई. सभी लोग बम से बचने के लिए स्कूल के बेसमेंट में छिपे हुए थे.

‘‘सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स’’ ने बताया कि घोउटा में विद्रोहियों के कब्जे वाले प्रमुख क्षेत्र अरबीन में हवाई हमला हुआ, जहां सरकारी बल पिछले एक माह से हमले कर रहा है.

ब्रिटेन स्थित निगरानी संस्था के प्रमुख रमी अब्देल रहमान ने कहा, ‘एक हवाई हमले के दौरान तीन मिसाइलें स्कूल पर गिरीं, जिसके बेसमेंट का इस्तेमाल बम से बचने के लिए किया जाता था.’ उन्होंने कहा कि बचाव कर्मी अब भी जीवित बचे लोगों की तलाश कर रहे हैं.

मौतें गिनने का मुकाम बना सीरिया, ताज़ा हमले में 30 मरे

इससे पहले शनिवार को भी दमिश्क के बाहरी इलाके स्थित विद्रोही बहुल पूर्वी गोता में सीरियाई सैन्य विमानों द्वारा की गई बमबारी में, कम से कम 30 नागरिकों की मौत हो गई और कई घायल हो गए. पूर्वी गौता में 18 फरवरी को हुए हमलों के बाद से अब तक करीब 1,394 लोगों की जानें जा चुकी है, जिसमे 271 नाबालिग और 173 महिलाऐं भी शामिल थीं.

सीरियन ऑब्र्जेवेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स (एसओएचआर) ने बताया कि पिछले 72 घंटों में 50 हजार लोगों ने पूर्वी गोता को छोड़ दिया है.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें