239139 sehk haseena152

कोलकाता.रोहिंग्या शरणार्थियों के मुद्दे पर बांग्लादेश ने भारत से मदद की गुहार लगाई है. शुक्रवार को 2 दिन के दौरे पर भारत आईं की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने कहा कि जितना जल्द हो सके रोहिंग्या शरणार्थी अपने देश वापस लौट जाएं. इसके लिए भारत भी म्यांमार से बात करवाने में मदद करे.

हसीना ने कहा कि हमने मानवता के आधार पर रोहिंग्या को शरण दी. अब चाहते है कि वे जल्द अपने देश लौट जाएं.प्रधानमंत्री मोदी इसके लिए म्यांमार के साथ बातचीत में हमारी मदद करें.

उन्होंने कहा- “बांग्लादेश में 11 लाख रोहिंग्या शरणार्थी हैं. हम चाहते हैं कि वह अपनी धरती पर दोबारा वापस लौटें. हम सभी से यह अपील करते हैं कि म्यांमार सरकार पर वह दबाव बनाएं ताकि वे उन्हें अपने यहां पर वापस लें.”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

dar yasin rohingya refugees 5 990x556

अपने भाषण के दौरान भावुक हुईं शेख हसीना ने कहा, जब बांग्लादेश की तरफ से प्रश्रय देने पर सवाल उठाया गया, हमने यह कहा कि अगर 16 करोड़ को हम भोजन दे सकते हैं तो फिर कुछ लाख लोगों को भी खिला सकते हैं. अगर जरूरत पड़ी तो हम अपना खाना उनके साथ साझा करेंगे.

बता दें कि प्रधानमंत्री शेख हसीना शुक्रवार और शनिवार के लिए भारत दौरे पर आई हैं. इस दौरान वे रोहिंग्या मुद्दे और नदी जल समझौते पर नेताओं से बात करेंगी.

Loading...