death

कठोर कानून व्यवस्था के लिए प्रसिद्ध सऊदी अरब ने साल के शुरूआती 4 महीने में 48 लोगों को मौत की सजा दी है. सजा पाने वालों में अहिंसक, मादक पदार्थ के तस्कर, बलात्कारी आदि शामिल है.

बता दें कि कठोर कानून व्यवस्था के चलते मौत की सजा के मामलों की दर सऊदी अरब में दुनिया में सबसे अधिक है. मौत की सज़ा के ज्यादतर मामले मादक पदार्थ की तस्करी के दोषियों से जुड़े है.

मानवाधिकार विशेषज्ञ नियमित रूप से सऊदी अरब में मौत की सजा को लेकर अपनी चिंता जाहिर करते रहे है. एचआरडब्ल्यू के पश्चिम एशिया मामलों की निदेशक साराह व्हिस्टन ने कहा, सऊदी अरब में इतनी बड़ी संख्या में लोगों को मौत की सजा दिया जाना दुखद है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पिछले साल सऊदी अरब में 150 लोगों को मौत की सजा दी गयी थी. सजा के तहत दोषियों का सिर तलवार से कलम किया जाता है. यहाँ तक कि सऊदी के शहजादे को भी मर्डर के केस में सज़ा ए मौत दी गई थी.

सऊदी अरब में आतंकवाद , नरसंहार , बलात्कार , हथियारबंद लूटपाट एवं मादक पदार्थ तस्करी के लिये दोषी ठहराए गए लोगों को मौत की सजा का प्रावधान है.

Loading...