Tuesday, January 25, 2022

अमेरिका ने 60 राजनयिकों को निकाल सिएटल में रूसी दूतावास को किया बंद

- Advertisement -

रूस और अमेरिका के बीच एक बाद फिर से कोल्ड वॉर जैसे हालात बन रहे हैं. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सिएटल के रूसी वाणिज्य दूतावास को बंद करने का आदेश दे दिया है. ऐसे में 60 रूसी राजनयिकों को वापस अपने देश लौटने का फरमान सुना दिया गया है.

अमेरिकी प्रशासन के इस फैसले के साथ यूरोपियन यूनियन ने भी सहमति दिखाई है. यूरोपियन यूनियन अध्यक्ष डॉनल्ड टस्क ने कहा कि यूरोपीय संघ के 14 देश रूसी राजनयिकों को निष्कासित कर रहे हैं.

बता दें कि ब्रिटेन पहले ही 23 रूसी राजनयिकों को निष्कासित कर चुका है, ब्रिटेन का कहना था कि ये अघोषित रूप से इंटेलिजेंस एजेंट थे. खबर यह भी आ रही है कि जर्मनी ने भी चार रूसी राजनायिक को बाहर का रास्ता दिखा दिया है. कई राष्ट्रों के ताबड़तोड़ फैसले से रूस राजनायिक संकट में फंसता दिख रहा है.

अमेरिका द्वारा निष्कासित किए गए रशियन अधिकारियों के पास अमेरिका छोड़ने के लिए 7 दिन हैं. अमेरिकी अधिकारियों ने कहा कि किन्हीं कारणों से इन लोगों के नाम जाहिर नहीं किए जा सकते हैं.

दरअसल, ब्रिटेन ने रूस पर आरोप लगाया कि उसने पूर्व रूसी जासूस को ब्रिटेन में एक नर्व एजेंट के जरिये जहर देकर मारने की कोशिश की. जिन्हें जहर दिया गया उनकी हालत अभी भी खराब है और वे अस्पताल में भर्ती है. 66 साल के रिटायर्ड सैन्य ख़ुफ़िया अधिकारी स्क्रिपल और उनकी 33 वर्षीय बेटी यूलिया सेलिस्बरी सिटी सेंटर में एक बेंच पर बेहोशी की हालत में मिले थे. ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने रूस पर रासायनिक हथियारों पर लगे प्रतिबंधों का उल्लंघन करने का आरोप लगाया था.

साथ ही उन्होंने  रूसी विदेश मंत्री के फीफा विश्व कप के लिए भेजे निमंत्रण को भी खारिज कर दिया, उन्होंने कहा कि इस साल के अंत में रूस में होने वाले फुटबॉल विश्वकप में शाही परिवार हिस्सा नहीं लेगा.
- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles