सऊदी अरब के विदेश मंत्री आदिल अल जुबेर की और से सीरिया में अमेरिका के सैनिकों की उपस्थिति के लिए क़तर को भुगतान करने के बारे में कहा गया था. जिसे क़तर ने ख़ारिज कर दिया है.

क़तरी विदेश मंत्री ने शनिवार को कहा, “सऊदी विदेश मंत्रालय का यह बयान जवाब देने के लायक़ नहीं है. क़तर इस तरीक़े से अरब जगत के जनमत की ब्रेनवॉशिंग को ग़लत साबित करता है.”

उन्होंने कहा कि सऊदी अरब इस तरह के बयानों से जनमत के साथ खिलवाड़ नहीं कर पाएगा क्योंकि अरब की चेतना उससे कहीं ज़्यादा है जितना वह सोचता है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

jube

बुधवार को सऊदी अरब के विदेश मंत्री आदिल अलजुबैर ने कहा, “क़तर अपने सैनिक सीरिया भेजे इससे पहले कि अमरीका क़तर की रक्षा करना छोड़ दे जो उसकी भूमि पर अमरीकी सेना की छावनी की  मौजूदगी की शक्ल में है.”

जुबैर का यह बयान अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प के उस बयान के कुछ घंटों बाद आया है जिसमें ट्रम्प ने पश्चिम एशियाई देशों से सीरिया में ख़र्च बढ़ाने की अपील की ताकि इस अरब देश में दाइश के अंत के बाद ईरान के प्रभाव को कम किया जा सके.

Loading...