तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोगान ने अमेरिका को तुर्की के लिए सबसे बड़ा खतरा करार दिया है.

राष्ट्रपति एर्दोगान ने एक इंटरव्यू में कहा कि अमरीका, तुर्की के लिए ग़भीर ख़तरा बनता जा रहा है. उन्होंने आरोप लगाया कि अमरीका, कुर्दों को सशस्त्र करके हमारे लिए संकट पैदा कर रहा है.

तुर्की के राष्ट्रपति ने कहा कि कितनी विचित्र बात है कि अब हम अपने ही स्ट्रैटेजिक सहयोगी के हाथों घिरते चले जा रहे हैं. उनका कहना है कि हम पैसा ख़र्च करके भी हथियार नहीं ख़रीद पा रहे हैं जबकि अमरीका, कुर्दिस्तान वर्करस पार्टी जैसे आतंकवादियों को मुफ़्त में हथियार दे रहा है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

तुर्की के राष्ट्रपति ने कहा कि हमने देश के भीतर और बाहर हज़ारों आतंकवादियों का सफाया किया है किंतु अमरीका की ओर से अब भी आतंकवादियों का समर्थन किया जा रहा है. एर्दोगान ने का कहा कि पश्चिम ने तुर्की के विरुद्ध बहुत ख़तरनाक षडयंत्र रचा है.

तुर्की का राष्ट्रपति का ये बयान ऐसे समय में आया है, जब तुर्की ने अमरीका को बड़ा झटका देते हुए उसके केन्द्रीय बैंक में जमा अपने सोने को वापस तुर्की मंगा लिया है. तुर्की ने विदेशी बैंकों में जमा 220 टन सोना वापस मंगा लिया है. साथ ही समस्त विदेशी क़र्ज़ों का भुगतान डॉलर के बजाए सोने से करने aका फैसला किया है.

Loading...