क़तर और सऊदी अरब के बीच के तनाव का लंबा वक्त गुजरने के बावजूद भी कोई समाधान नहीं पेश आया है. साथ ही दोनों में पक्षों में अब तक कोई बातचीत भी नहीं हुई है.

रोम में क़तर के राजदूत अब्दुल अज़ीज़ बिन अहमद अलमालेकी ने बातचीत पर जोर देते हुए कहा कि हम पहले दिन से ही कह रहे हैं कि क़तर वार्ता के  लिए तैयार है.

अलमालेकी ने इटली के सरकारी टीवी चैनल से बातचीत में कहा, जहां तक क़तर के विरुद्ध सैनिक चढ़ाई की संभावना की बात है तो हम नहीं समझते कि एसा कुछ होगा.

उन्होंने कहा, दरअसल हम सभी देश फ़ार्स खाड़ी सहयोग परिषद का हिस्सा हैं और क़तर इस परिषद का संस्थापक सदस्य है.

क़तर के राजदूत ने कहा कि क़तर पर आतंकवाद के समर्थन का आरोप निराधार है हमने चारों देशों को चुनौती दी कि यदि उनके पास कोई भी सुबूत है तो पेश करें.

उन्होंने कहा कि आतंकवाद की समस्या से निपटने के लिए सामूहिक प्रयास की ज़रूरत है कोई एक देश अकेले आतंकवाद से नहीं लड़ सकता

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?