Friday, December 3, 2021

अगर बैतुल मुक़द्दस को नहीं बचा पाए तो मक्का भी नहीं बचेगा: एर्दोगान

- Advertisement -

तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब अर्दोगान ने शुक्रवार को इस्तांबूल में फिलिस्तीन के मुद्दे पर दुनिया भर के मुस्लिमों से एकजुट होने की अपील करते हुए कहा कि अगर बैतुल मुक़द्दस को नहीं बचा पाए तो मक्का का भविष्य भी खतरे में पड़ जाएगा.

उन्होंने बैतुल मुक़द्दस की अहमियत पर रौशनी डालते हुए कहा कि बैतुल मुक़द्दस सिर्फ एक शहर नहीं है बल्कि एक प्रतीक, परीक्षा और क़िब्ला है तो यदि हम अपने पहले क़िब्ले को न बचा पाए तो फिर हमें हमे दूसरे किब्ले यानी मक्के के भविष्य के बारे में आश्वस्त नहीं रहना चाहिए.

उन्होंने कहा कि केवल इस्लामी जगत ही बैतुलमुक़द्दस की परीक्षा में फेल नहीं हुआ बल्कि इस परीक्षा में पूरी मानव जाति फेल हो गयी है. उन्होंने इस मामले में सयुंक्त राष्ट्र की भी तीखी आलोचना की है.

alaqsa 678x381

एर्दोगान ने कहा कि इस्राईल के मन में जो आ रहा है वह कर रहा है और मुसलमान, आपस की लड़ाई में उलझे हुए है और अपने असली दुश्मन के सामने खड़े भी नहीं हो पा रहे है. उन्होंने कहा, दुश्मन केवल एक ही जुबान समझता है और वह है ताकत की. एकजुटता की.

उन्होंने मुसलमानों से अपील की कि सभी मुसलमानों का कर्तव्य है कि वह इस अत्याचारी शासन  इस्राईल के सामने डट जाएं ताकि उस पर लगाम कसी जा सके.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles