erdo12

तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब अर्दोगान ने शुक्रवार को इस्तांबूल में फिलिस्तीन के मुद्दे पर दुनिया भर के मुस्लिमों से एकजुट होने की अपील करते हुए कहा कि अगर बैतुल मुक़द्दस को नहीं बचा पाए तो मक्का का भविष्य भी खतरे में पड़ जाएगा.

उन्होंने बैतुल मुक़द्दस की अहमियत पर रौशनी डालते हुए कहा कि बैतुल मुक़द्दस सिर्फ एक शहर नहीं है बल्कि एक प्रतीक, परीक्षा और क़िब्ला है तो यदि हम अपने पहले क़िब्ले को न बचा पाए तो फिर हमें हमे दूसरे किब्ले यानी मक्के के भविष्य के बारे में आश्वस्त नहीं रहना चाहिए.

उन्होंने कहा कि केवल इस्लामी जगत ही बैतुलमुक़द्दस की परीक्षा में फेल नहीं हुआ बल्कि इस परीक्षा में पूरी मानव जाति फेल हो गयी है. उन्होंने इस मामले में सयुंक्त राष्ट्र की भी तीखी आलोचना की है.

alaqsa 678x381

एर्दोगान ने कहा कि इस्राईल के मन में जो आ रहा है वह कर रहा है और मुसलमान, आपस की लड़ाई में उलझे हुए है और अपने असली दुश्मन के सामने खड़े भी नहीं हो पा रहे है. उन्होंने कहा, दुश्मन केवल एक ही जुबान समझता है और वह है ताकत की. एकजुटता की.

उन्होंने मुसलमानों से अपील की कि सभी मुसलमानों का कर्तव्य है कि वह इस अत्याचारी शासन  इस्राईल के सामने डट जाएं ताकि उस पर लगाम कसी जा सके.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?