Tuesday, September 28, 2021

 

 

 

मोदी ने व्यापार सुगमता में भारत को टॉप-50 में लाने का किया था वादा, लेकिन मिली 130वीं रैंकिंग

- Advertisement -
- Advertisement -

modi78

प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने व्यापार सुगमता में दुनिया भर में  भारत को टॉप-50 में लाने का वादा किया था लेकिन इस बार भी भारत टॉप-100 में भी शामिल नहीं हो पाया हैं. विश्वबैंक की ताजा ‘डूइंग बिजनेस’ रिपोर्ट में व्यापार सुगमता के मामले में भारत को 130वीं रैंकिंग मिली हैं.

इस रिपोर्ट में विभिन्न मानदंडों के आधार पर भारत 190 देशों में 130वें पायदान पर था. हालांकि पिछले साल की रैंकिंग को संशोधित कर 131वां कर दिया गया है. इस लिहाज से देश ने एक पायदान का सुधार किया है. विश्वबैंक के सूचकांक में रैंकिंग में कोई सुधार नहीं होने को लेकर भारत सरकार ने निराशा व्यक्त की और कहा कि रिपोर्ट में उन 12 प्रमुख सुधारों पर विचार नहीं किया गया जिसे सरकार कर रही है.

औद्योगिक नीति एवं संवर्द्धन विभाग के सचिव रमेश अभिषेक ने कहा कि दर्जन भर महत्वपूर्ण सुधार सरकार ने किए हैं जिनमें दिवाला संहिता, जीएसटी, इमारत योजना की मंजूरी के लिए एकल खिड़की प्रणाली, ऑनलाइन कर्मचारी राज्य बीमा आयोग और भविष्य निधि पंजीकरण जैसे सुधार शामिल हैं. इन सभी पर विश्वबैंक ने इस साल विचार नहीं किया है.

विश्वबैंक की डूइंग बिजनेस 2017 की सूची में न्यूजीलैंड पहले स्थान पर जबकि सिंगापुर दूसरे पायदान पर है. उसके बाद क्रमश: डेनमार्क, हांगकांग, दक्षिण कोरिया, नार्वे, ब्रिटेन, अमेरिका, स्वीडन तथा पूर्व यूगोस्लाव मैसिडोनिया गणराज्य का स्थान है. सूची में पाकिस्तान 144वें स्थान पर है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles