Thursday, August 5, 2021

 

 

 

सिखों और कश्मीरियों की जासूसी के आरोप में भारतीय युवक जर्मनी में गिरफ्तार

- Advertisement -
- Advertisement -

जर्मनी में सिख समुदाय और कश्मीर के कार्यकर्ताओं की जासूसी करने के आरोप में एक भारतीय युवक को गिरफ्तार किया गया है। युवक को दो साल से भी अधिक समय तक अपने देश के लिए जासूसी करने को लेकर आरोपी बनाया है।

संघीय अभियोजक कार्यालय ने बुधवार को बताया कि बलवीर एस नामक इस संदिग्ध के खिलाफ जर्मन निजी नियमों के अनुसार जासूसी के आरोप फ्रैंकफर्ट की एक अदालत में दायर किए गए। इसने कहा कि उन्होंने जनवरी, 2015 से भारत की रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (रॉ) में एक कर्मचारी को सिखों, कश्मीर के कार्यकर्ताओं और उनके रिश्तेदारों के बारे में सूचनाएं देने की बात कबूली है।

अभियोजकों के अनुसार बलवीर दिसंबर 2017 तक जर्मनी में खुफिया अधिकारी के साथ टेलीफोन और व्यक्तिगत संपर्क में थे और उन्होंने कई मामलों में सूचनाएं पहुंचायीं। अभियोजकों ने यह नहीं बताया कि वह हिरासत में हैं या नहीं।

इससे पहले भी 51 वर्षीय मनमोहन सिंह को जर्मनी में रॉ के लिए 2014 में जासूसी करने का दोषी पाया गया था। उन्हें 9 महीने की जेल की सजा सुनाई गई है। मनमोहन सिंह और उनकी पत्नी सिख समुदाय और कश्मीरी अलगाववादियों की जानकारी रॉ को दे रहे थे।

जर्मन प्रॉसिक्यूटर ने कहा था कि इस सिख कपल को जानकारियां पास करने के लिए 7,200 यूरो मिले। मनमोहन सिंह जर्मनी में एक सिख चैनल के लिए जर्नलिस्ट के तौर पर का करते थे। सजा के ऐलान के बाद मनमोहन सिंह की पंजाब के कुछ नेताओं के साथ तस्वीरें वायरल हुई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles