पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ ने भारत के खिलाफ विवादास्पद बयान देते हुए कहा कि भारत और इजराइल मुस्लिमो की जमीनों पर कब्जा कर रहे है. उन्होंने इजराइल के मामले में फिलिस्तीन और भारत के मामले में कश्मीर का हवाला दिया.

एक न्यूज़ चैनल के प्रोग्राम में ख्वाजा आसिफ ने कहा, पाकिस्तान ने कभी भी इजरायल को मान्यता नहीं दी और भारत और इजरायल का यह गठजोड़ दोनों के ‘इस्लाम के विरोध’ के कारण है. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान का फिलिस्तीन के लोगों के साथ भावनात्मक संबंध है, जबकि कश्मीर का मुद्दा पाकिस्तान के अस्तित्व से संबंधित है.

उन्होंने कहा, यह सही है कि भारत और इजरायल के बीच अलायंस है लेकिन, पाकिस्तान इन दोनों ताकतों से खुद को महफूज रख सकता है.  न तो सरकार को और न ही देश को इससे घबराने की जरूरत है. आतंकवाद को लेकर आसिफ ने कहा, पाकिस्तान आतंकवाद से मुकाबला कर रहा है. उन्होंने कहा, ‘हमने बड़ी संख्या में बलिदान के बाद आतंक के खिलाफ सफलता हासिल की है.’

इसके पहले पाकिस्तान की फॉरेन मिनिस्ट्री ने एक बयान जारी कर कहा कि वो भारत और इजरायल के बीच जारी रिश्तों पर नजर रख रहे हैं. कारोबारी समझौते तो हुए ही हैं साथ में डिफेंस सेक्टर में भी करार हुए हैं. पाकिस्तान इन पर नजर रख रहा है.

बता दें कि इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू भारत के दौरे पर भारत के साथ फ्री ट्रेड पैक्ट की शुरुआत करेंगे। अपने दौरे के दौरान नेतन्याहू ने कहा था, ‘हमारे राजनयिक संबंधों को 25 साल हो गए हैं, लेकिन अब कुछ अलग हो रहा है.’

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें