संयुक्त अरब अमीरात में 15 लाख दिरहम ($ 4 मिलियन) खर्च कर  10,000 से अधिक कैदियों के कर्ज का भुगतान करने वाले एक भारतीय व्यापारी को यूएई सरकार ने देश की प्रतिष्ठित समुदाय सेवा पदक से सम्मानित किया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

59 वर्षीय फिरोज मर्चेंट, शुद्ध गोल्ड ज्वेलर्स के संस्थापक और अध्यक्ष है, इस पुरस्कार को प्राप्त करने वाले पहले प्रवासी हैं। 2008 के बाद से, उन्होंने संयुक्त अरब अमीरात की जेलों में बंद 10,940 लोगों के वित्तीय दायित्वों का निपटारा किया है.

फिरोज ने उन कैदियों का कर्ज चुकाया जो वित्तीय अभाव में कर्ज न चुकाने के चलते जेलों में बंद थे. उन्होंने ये पुरूस्कार संयुक्त अरब अमीरात और बाहर रहने वाले अपने देशवासियों को समर्पित किया।

उन्होंने बताया कि वे उन लोगों की मदद कर रहा थे जो परिस्थितियों के शिकार थे। “ये लोग अपराधियों नहीं हैं। “ गौरतलब रहें कि खाड़ी देशों में जुर्माने ने दे पाने की वजह से बहुत से कैदी जेलों में बंद रहते है।

Loading...