Sunday, August 1, 2021

 

 

 

ट्रंप के दौरे से पहले अमेरिकी नेता का बयान – भारत को मुस्लिमों की सुरक्षा करनी चाहिए

- Advertisement -
- Advertisement -

सीएए और एनआरसी विरोध-प्रदर्शनों के बीच हो रहे अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के भारत दौरे को लेकर प्रभावशाली अमेरिकी सांसद ने बुधवार को कश्मीरी और देश के मुसलमानों को लेकर चिंता जताते हुए कहा कि भारत को मुस्लिमों की सुरक्षा करनी चाहिए और मुल्क के धर्मनिरपेक्ष लोकतंत्र को नहीं खोना चाहिए।

एशिया मामले की हाउस फॉरेन अफेयर्स उपसमिति के अध्यक्ष एमी बेरा ने कहा कि अमेरिकी की इच्छा थी कश्मीर मुद्दे का समाधान हो और क्षेत्र में सामान्य स्थिति बहाल हो। कैलिफोर्निया से डेमोक्रेट पार्टी से चार बार के सांसद बेरा ने कहा, ‘हम नहीं चाहते कि भारत धर्मनिरपेक्ष लोकतंत्र खो दे, यह वह है जो इसे क्षेत्र के देशों से उसे अलग करता है। भारत की यही वो बात है जो उसे अमेरिका का इतना मूल्यवान भागीदार बनाती है।’

अमेरिकी नेता से जब पत्रकारों के एक समूह ने पूछा कि क्या उन्होंने कश्मीर पर अपनी चिंताओं को भारतीय अधिकारियों से अवगत कराया है? उन्होंने कहा कि हमने कश्मीर में राजनीतिक नेताओं को हिरासत में रखने पर अपनी चिंता व्यक्त की है। बता दें कि डेमोक्रेट सांसद बेरा और जॉर्ज होल्डिंग भारत के दो दिवसीय दौरे पर हैं।

बेरा ने आगे कहा कि वो कश्मीर में कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल ले जाना चाहते हैं। उन्होंने कहा, ‘हमने अपनी इच्छा व्यक्त की कि हम किसी समय एक प्रतिनिधिमंडल को कश्मीर ले जाना चाहेंगे।’ अमेरिकी सांसद ने इस बीच भारत के जीवंत लोकतंत्र की भी सराहना की जहां करीब 80 करोड़ हिंदू और करीब 20 करोड़ मुस्लिमों साथ-साथ रह रहे हैं।

बता दें कि ट्रंप का दौरा ऐसे समय में हो रहा है जबकि देश भर में नागरिकता कानून और एनआरसी को लेकर विरोध-प्रदर्शन जारी है। देश के मुस्लिमों का मानना है कि नागरिकता कानून उनकी नागरिकता को छिनने वाला है। जबकि सरकार का इससे इनकार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles