Friday, October 22, 2021

 

 

 

खुशी के पैमाने पर सोमालिया, पाकिस्तान, फलस्तीन और बांग्लादेश से भी पिछड़ा भारत

- Advertisement -
- Advertisement -

न्यूयार्क: खुशी के वैश्विक सूचकांक में भारत की स्थिति में कोई सुधार नहीं हुआ है। खुश राष्ट्रों की 156 देशों की सूची में पिछले साल के मुकाबले भारत और एक स्थान नीचे खिसकर भारत 118वें स्थान पर चला गया है। इस सूची में भारत का नंबर चीन, पाकिस्तान और बांग्लादेश से भी पीछे आता है।

खुशी के पैमाने पर सोमालिया, पाकिस्तान, फलस्तीन और बांग्लादेश से भी पिछड़ा भारतडेनमार्क, स्विट्जरलैंड को पछाड़कर सबसे खुश देशों की सूची में शीर्ष पर पहुंच गया है। संयुक्त राष्ट्र की वैश्विक पहल सतत विकास समाधान नेटवर्क (एसडीएसएन) द्वारा प्रकाशित ‘द वर्ल्ड हैप्पीनैस रिपोर्ट’ में यह जानकारी दी गई है।

इस रिपोर्ट में प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद, जीवन की संभावना, सामाजिक समर्थन और जिंदगी में अपनाई जाने वाली स्वतंत्रता को खुशी के सूचकों के तौर पर माना गया।

इस सूची में दूसरे स्थान पर स्विट्जरलैंड, तीसरे पर आइसलैंड, चौथे पर नॉर्वे और पांचवें पर फिनलैंड का स्थान है। भारत साल 2015 में 117वें स्थान पर था और इस साल एक पायदान नीचे सरक कर 118वें स्थान पर चला गया है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत उन दस देशों के समूह में शामिल है, जिनमें खुशी के पैमाने पर सबसे अधिक गिरावट आई है। भारत के साथ इस सूची में वेनेजुएला, सउदी अरब, मिस्र, यमन और बोत्सवाना शामिल हैं।

भारत, सोमालिया (76), चीन (83) , पाकिस्तान (92) , ईरान (105), फलस्तीनी क्षेत्र (108) और बांग्लादेश (110) से भी नीचे है। वर्ष 2013 में भारत 111वें स्थान पर था।

अमेरिका 13वें, ऑस्ट्रेलिया नौवें और इस्राइल 11वें स्थान पर है। 20 मार्च को संयुक्त राष्ट्र विश्व खुशी दिवस है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles