rohhi.1

rohhi.1

बांग्लादेश के आवास व लोकनिर्माण मंत्री इंजीनियर मोशर्रफ हुसैन ने रोहिंग्या शरणार्थियों के मुद्दे पर भारत से संयुक्त राष्ट्र में प्रस्ताव पेश करने की अपील की.

उन्होंने कहा, ‘‘हम चाहेंगे कि भारत संयुक्त राष्ट्र में प्रस्ताव पेश करके म्यांमार से रोहिंग्या लोगों को बांग्लादेश से वापस बुलाने का आह्वान करे क्योंकि हम उन्हें अपने सीमित संसाधनों के साथ हमेशा नहीं रख सकते.’’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बांग्लादेश में रोहिंग्या मुसलमानों को शरण देने के सवाल पर उन्होंने कहा कि सिर्फ मानवता के आधार पर ऐसा किया गया. उन्होंने कहा, यदि  लोगों को निर्मम तरीके से मारा जा रहा हो तो मानवता यह नहीं कहती कि उसे मरने के लिए छोड़ दें. यदि हम उन्हें शरण नहीं देते तो उन्हें मार दिया जाता.

हुसैन ने कहा, जिस प्रकार बांग्लादेश मुक्ति  संग्राम में भारत ने बांग्लादेश के लोगों को शरण दिया था उसी प्रकार हमने म्यांमार के रोहिंग्या को शरण दिया. उन्होंने कहा, ‘‘अगर हम उन्हें वापस धकेलते तो वे मारे जाते.’’

उन्होंने कहा कि बांग्लादेश चाहता है कि म्यांमार में रोहिंग्या की वापसी के लिए भारत संयुक्त राष्ट्र  में एक प्रस्ताव लाये. उन्होंने उम्मीद जताई कि भारत इसपर जरूर आगे बढ़ेगा.

Loading...