Sunday, January 16, 2022

‘भारत अपने अल्पसंख्यकों को धार्मिक समूहों की हिंसा और भेदभाव से बचाए’

- Advertisement -

क्लिवलैंड में रिपब्लिकन पार्टी के सम्मेलन में भारत को अमेरिका का भूराजनीतिक सहयोगी बताते हुए रिपब्लिकन मंच ने भारत से अपील करते हुए कहा कि वह अपने धार्मिक समुदायों को हिंसा और भेदभाव से बचाए। 58 पन्नों के मेनिफेस्टो में रिपब्लिकन पार्टी ने भारतीय मूल के नागरिकों की ओर से अमेरिका के प्रति किए गए योगदानों का उल्लेख करते हुए इसमें कहा गया, हम भारत के सभी धार्मिक अल्पसंख्यक समुदायों के लिए हिंसा एवं भेदभाव के खिलाफ सुरक्षा की अपील करते हैं।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, रिपब्लिकन पार्टी ने कहा है कि भारत, अमेरिका का एक राजनीतिक सहयोगी है। भारत की तरफ से अमेरिका के लिए किए गए सहयोग को चुनावी घोषणा पत्र में बताया है और रिपब्लिक मंच से भारत सरकार से अपील की है कि ‘हम भारत के धार्मिक समुदायों को हिंसा और भेदभाव के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करेंगे। इस घोषणा पत्र में संबंधों को मजबूती देने के लिए सांस्कृतिक, आर्थिक और राष्ट्रीय सुरक्षा की भी बात कही है।

रिपब्लिकन पार्टी ने भारत को अमेरिका का नजदीकी सहयोगी और रणनीतिक साझीदार बताया है जबकि पाकिस्तान को अपने परमाणु हथियारों की रक्षा पर ध्यान देने के लिए कहा है। पार्टी ने भारत सरकार से आग्रह किया है कि वह अपने यहां रहने वाले अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को हिसा और भेदभाव से बचाए।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles