isra111

isra111

इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की नई दिल्ली यात्रा से महज 11 दिन पहले भारत ने दोनों देशों के बीच 500 मिलियन डॉलर के समझौते को रद्द कर दिया.

बुधवार को कहा कि भारत के रक्षा मंत्रालय ने ये समझौता रद्द किया है. इस समझौते के तहत भारत को इजराइल से 1,600 एंटी टैंक मिसाइल खरीदने थे.  हालांकि भारत ने इससे एक दिन पहले ही सात करोड़ डॉलर (445 करोड़ रुपये) के बराक मिसाइल सौदे को अंतिम रूप दिया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

भारत ने 445 करोड़ रुपये के जिन 131 बराक मिसाइलों के सौदे को अंतिम रूप दिया है, उन्हें भारत द्वारा बनाए जा रहे पहले विमान वाहक पोत में लगाए जाने की योजना है.

दोनों ही सौदों का संबंध इजरायल की सरकारी हथियार निर्माता कंपनी रफाएल से है. राफेल एडवांस डिफेंस सिस्टम लिमिटेड के प्रवक्ता इशाई डेविड ने कहा, ‘‘राफेल को अब भारत के रक्षा मंत्रालय से एक आधिकारिक सूचना प्राप्त हो चुकी है जिसमें स्पाइक सौदे के रद्द होने की सूचना दी गई है.’’

राफेल ने बयान में कहा, ‘‘यह बात ध्यान दिलाए जाने योग्य है कि राफेल के सभी मांगों पर सहमत होने के बावजूद समझौता होने से पहले ही यह सौदा रद्द हो गया है.’ राफेल ने इस फैसले पर नाराजगी व्यक्त की है. साथ में कहा कि वे भारतीय रक्षा मंत्रालय के साथ सहयोग करने और एक महत्वपूर्ण बाजार के रूप में अपनी रणनीति को जारी रखने के लिए प्रतिबद्ध है.

Loading...