वाशिंगटन: अमेरिकी रिसर्च संस्थान द हेरिटेज फाउंडेशन की इंडेक्स ऑफ इकनॉमिक फ्रीडम में भारत अपने पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान सहित कई दक्षिण एशियाई देशों से पिछड़ गया हैं. वार्षिक सूचकांक में भारत  123 वें स्थान से खिसक कर 143 वें स्थान पर पहुंच गया है.

द हेरिटेज फाउंडेशन की और से इसका कारण बताते हुए कहा गया कि भारत में बाजार को ध्यान में रखकर किए गए आर्थिक सुधारों से होने वाली प्रगति का असमान हैं. स रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में पिछले पांच साल में औसतन सात फीसदी की दर से सतत वृद्धि हुई है लेकिन यह वृद्धि नीतियों में गहरे तक नहीं समाई है जिससे कि आर्थिक स्वतंत्रता का संरक्षण किया जा सके. इस सूचकांक में भारत ने कुल 52.6 अंक हासिल किए जो पिछले साल के मुकाबले 3.6 अंक कम है. पिछले साल इस सूचकांक में भारत की रैंकिंग 123 थी.

दक्षिण एशियाई देशों में भारत से उपर नेपाल का स्थान 125, श्रीलंका का 112, पाकिस्तान का 141, भूटान का 107 और बांग्लादेश का 128 है. जबकि इस सूचकांक में  नीचे अफगानिस्तान 163 और मालदीव 157वें स्थान पर हैं. वहीँ न ने इस सूचकांक में 57.4 अंक हासिल किए जो पिछले साल के मुकाबले 5.4 अंक ज्यादा है.  इस साल उसका स्थान 111 वां रहा है.

स सूचकांक में हांगकांग, सिंगापुर और न्यूजीलैंड शीर्ष पर रहे हैं. अमेरिका 75.1 अंक हासिल कर 17वें स्थान पर रहा है. इस सूचकांक में वैश्विक औसत 60.9 अंक रहा जो पिछले 23 साल में रिकॉर्ड उच्चस्तर है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें