मोदी का एजेंडा यहूदियों के नाजी पोग्रोम से जुड़ा: पाक पीएम इमरान खान

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को कहा कि वह बार-बार यह कहते रहे हैं कि मोदी का हिंदू वर्चस्ववादी एजेंडा 1930 के दशक में यहूदियों के नाजी पोग्रोम से जुड़ा हुआ है। इमरान खान aका ये बयान दिल्ली हिंसा के संदर्भ में आया है।

उन्होने ट्वीट में, “जैसा कि मैंने बार-बार कहा है, मोदी का हिंदू वर्चस्ववादी एजेंडा 1930 के दशक में यहूदियों के नाजी पोग्रोम से जुड़ा हुआ है, जबकि प्रमुख शक्तियों ने हिटलर का समर्थन किया। मोदी ने सीएम के रूप में गुजरात में मुस्लिमों के खिलाफ ये पोग्रोम चलाया और अब हम नई दिल्ली में भी ऐसा ही देख रहे हैं।

उन्होंने यह भी लिखा, “मुस्लिम घरों और व्यवसायों से निकलने वाली छवियां, मुसलमानों को पीटा और मारा जा रहा है, मस्जिदों और कब्रिस्तानों को जलाया और उजाड़ा जा रहा है, नाजी जर्मनी में पोग्रोम से भागने वाले यहूदियों के समान हैं। दुनिया को मोदी फासीवादी नस्लवादी शासन की इस क्रूर सच्चाई को स्वीकार करना चाहिए और इसे रोकना चाहिए ”।

उनके ट्विटर अकाउंट पर एक क्लिप भी अपलोड की गई, जिसमें प्रिया गोपाल जो कैम्ब्रिज यूनी में लेक्चरर हैं, ने कहा कि नई दिल्ली में मुसलमानों, उनकी मस्जिदों, घरों और व्यवसायों पर किए गए हमले यहूदियों पर नाजियों द्वारा किए गए हमले की तरह हैं।

इससे पहले उन्होने कहा था कि भारत में 20 करोड़ मुसलमानों को निशाना बनाया जा रहा है। इमरान ख़ान ने ट्वीट कर कहा, ”हम देख रहे हैं कि नाज़ी-प्रेरित आरएसएस विचारधारा परमाणु शक्ति संपन्न और एक अरब से ज़्यादा आबादी वाले भारत की सत्ता को अपने हाथ में ले रहा है। जब भी नफ़रत आधारित नस्ली विचारधारा के हाथ में कोई देश आता है तो क़त्लेआम की तरफ़ बढ़ता है।”

विज्ञापन