पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के तौर पर इमरान खान 11 अगस्त को शपथ ग्रहण करेंगे। ध्यान रहे 25 जुलाई को हुए आम चुनाव में 65 वर्षीय खान के नेतृत्व वाली पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है। लेकिन उनकी पार्टी को पूर्ण बहुमत हासिल नही हुआ है।

रेडियो पाकिस्तान के अनुसार, खैबर पख्तूनख्वा में पीटीआई कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए खान ने कहा कि अगले महीने (अगस्त) की 11 तारीख को प्रधानमंत्री पद की शपथ लूंगा। खान ने कहा, ‘मैंने खैबर पख्तूनख्वा के मुख्यमंत्री का भी फैसला कर लिया है। उसकी घोषणा अगले 48 घंटों में करूंगा। इस संबंध में मैंने जो भी फैसला लिया है, वह लोगों के हित में है।’

उन्होंने कहा कि सिंध के सुदूर इलाकों से गरीबी मिटाना उनकी सरकार की प्राथमिकताओं में शामिल होगा। इससे पहले पीटीआई के प्रवक्ता नईमुल हक ने शनिवार को संवाददाताओं से कहा था कि पार्टी प्रमुख इमरान खान 14 अगस्त को प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे।

imraa

पाकिस्तान की 342 सीटों वाली नेशनल एसेम्बली में 272 सीटों पर प्रत्यक्ष निर्वाचन होता है। किसी भी पार्टी को सरकार बनाने के लिए कुल में से 172 सीटों की जरूरत होती है, हालांकि निर्वाचित 272 सीटों में उसे 137 सीटें ही चाहिए होती हैं। सदन में 60 सीटें महिलाओं के लिए जबकि 10 सीटें धार्मिक अल्पसंख्यकों के लिए आरक्षित हैं।

पीटीआई ने कल कहा था कि सरकार बनाने के लिए वह छोटे दलों और निर्दलीय विधायकों के संपर्क में हैं। पीटीआई के पास फिलहाल 116 सीटें हैं। पाकिस्तान चुनाव के नतीजे तो सामने आ चुके हैं लेकिन अभी तक गजेट नोटिफिकेशन जारी नहीं हुआ है। अमूमन मतदान के तीन दिन बाद नोटिफिकेशन जारी कर दिया जाता है लेकिन ऐसा इस बार नहीं हुआ है।

पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने तमाम जीते हुए सांसदों को तीन दिन के भीतर अपनी संपत्ति का ब्योरा देने को कहा है। ये भी कहा कि चुनाव में कितने पैसे खर्च किए इसका हिसाब दें।