इमरान खान की ओआईसी से मांग – हुजूर की शान में हो रही गुस्ताखी को रोकने के लिए उठाए कदम

7:03 pm Published by:-Hindi News

इस्लामी देशों के समूह ऑर्गनाइज़ेशन ऑफ़ इस्लामिक कंट्रीज़ यानी ओआईसी के मुखियाओं की 14वीं इस्लामिक कॉन्फ़्रेंस में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने हुजूर की शान में हो रही गुस्ताखी का मुद्दा उठाते हुए ओआईसी की और से उठाए जा रहे कदमों को नाकाफी करार दिया।

इमरान ने कहा कि अगर कोई इस्लाम के आख़िरी पैग़म्बर हज़रत मोहम्मद का अपमान करता है तो यह हमारी नाकामी है। इमरान ने कहा कि मुसलमानों के विश्वस्तरीय फ़ोरम के तौर पर ओआईसी को मुसलमानों के अधिकार और उनकी धार्मिक भावनाओं की सुरक्षा के लिए प्रभावी किरदार अदा करना चाहिए।

आतंकवाद को इस्लाम से जोड़े जाने पर उन्होने कहा, ”9/11 के बाद कश्मीर और फ़लस्तीन की जायज़ जद्दोजहद को इस्लामी अतिवाद और दहशतगर्दी से जोड़ दिया गया हालांकि 9/11 से पहले 80 फ़ीसदी से ज़्यादा आत्मघाती हमले ग़ैर-मुस्लिम चरमपंथी करते थे। तमिल छापामारों के हमले को तो किसी ने हिंदू मज़हब से नहीं जोड़ा क्योंकि ये भी एक राजनीतिक लड़ाई थी।”

SCO में इमरान खान से हो सकती है PM मोदी की अनौपचारिक बातचीत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाकिस्तान के पीएम इमरान खान के बीच शंघाई कोऑपरेशन ऑर्गनाइजेशन (SCO) शिखर सम्मेलन के दौरान अनौपचारिक बातचीत हो सकती है। किर्गिस्तान के शहर बिशेकेक में 13 और 14 जून को SCO का शिखर सम्मेलन होने वाला है. हालांकि दोनों देशों के बीच किसी भी तरह की औपचारिक बातचीत की कोई संभावना नहीं है।

गुरुवार को विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि अब तक दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय वार्ता की कोई संभावना नहीं है। हालांकि इंडिया टुडे को मिली जानकारी के मुताबिक दोनों पड़ोसियों के बीच अनौपचारिक बातचीत की संभावना है।

Loading...