imran

पाकिस्तान के नए बने प्रधानमंत्री इमरान खान ने पद संभालते ही अपने देश को एक नई दिशा देने के लिए कदम उठाना शुरू कर दिया है। सबसे पहले उन्होने खुद पर होने वाले भारी-भरकम खर्च को सीमित कर दिया।

उन्होने पीएम हाउस को यूनिवर्सिटी बनाने का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि पीएम आवास की इमारत का इस्तेमाल यूनिवर्सिटी बनाने के लिए किया जाएगा। खान ने कहा, ‘मैं 524 की जगह दो लोगों को रखूंगा। मैं तीन बेडरूम वाले आवास में रहूंगा।

खान ने कहा, मैं दो कार रखूंगा क्योंकि खुफिया एजेंसियों ने मुझे बताया है कि मेरी जान को खतरा है। मैं बानीगाला नहीं छोड़ना चाहता था लेकिन मुझे ऐसा करने के लिए मजबूर होना पड़ा है।’ खान ने कहा उनकी सरकार बाकी बुलेट प्रूफ कारों को नीलाम करेगी और कारोबारियों को उसे खरीदने का न्योता दिया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इमरान ने कहा, प्रधानमंत्री निवास में 524 सेवक और 80 कार है। उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री यानि मेरे पास 33 बुलेटप्रूफ कारें भी हैं। उड़ने के लिए हेलिकॉप्टर और विमान भी हमारे पास है। हमारे यहां गवर्नर का विशाल आवास है और हर कल्पनीय आराम की चीजें हैं।’

उन्होंने कहा, मुख्यमंत्री, गवर्नर, कमिश्नर के बड़े-बड़े बंगले हैं जबकि आजादी के बाद देश की बड़ी आबादी के सर पर अभी भी छत नहीं है। इमरान ने कहा कि पाकिस्तान में 50 लाख कम बजट के घरों का निर्माण कराया जाएगा जो कि एक चुनौती भरा कार्य है।

इमरान ने कहा कि विदेश में रहने वाले पाकिस्तानी देश में पैसा भेजें, यहां के बैकों में रखे। जिससे देश को डॉलर की कमी से निजात दिलाने में मदद मिले। इमरान खान ने कहा कि उनका सपना पाकिस्तान को इस्लामिक कल्याणकारी राज्य बनाने का है, जिसमें लोगों पर उनकी क्षमता के हिसाब से कर लगे।

भ्रष्टाचार पर बोलते हुए इमरान ने कहा कि पाकिस्तान का गृह मंत्रालय उन्होंने अपने पास इसलिए रखा है क्योंकि वो भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ा अभियान छेड़ने जा रहे हैं। इमरान  ने कहा कि देश का 15000 बिलियन से बढ़कर 28000 बिलियन हो गया है, जिसका ऑडिट कराया जाएगा।

Loading...