Sunday, January 23, 2022

अमेरिका की मांग – नजरबंद कश्मीरी नेताओं को ‘बिना आरोप’ तुरंत रिहा करें

- Advertisement -

दक्षिण और केंद्रीय एशियाई मामलों के लिए अमेरिका की मुख्य राजनयिक एलिस वेल्स न दिनों दिल्ली की यात्रा पर हैं। इसी बीच उन्होने भारत सरकार से आग्रह किया है कि वह जम्मू कश्मीर में बिना चार्ज के हिरासत में रखे गए नेताओं को रिहा करे। इसके अलावा उन्होंने कश्मीर मे इंटरनेट सेवा की बहाली पर प्रसन्नता जताई।

एलिस वेल्स ने कहा, ‘यात्रा ज्यादा सुनने और समझने का मौका देता है। खासतौर से भारत के नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर जिसे लेकर देश जबरदस्त  तरीके से लोकतांत्रिक समीक्षा के दौर से गुजर रहा है। फिर चाहे वह विपक्ष के द्वारा सड़कों पर हो, मीडिया में हो या अदालतों में।’

वेल्स ने कश्मीर को लेकर कहा, ‘कश्मीर में इंटरनेट सेवा की आंशिक बहाली जैसे वृद्धिशील कदमों को देखकर प्रसन्न हूं। हम लगातार सरकार से अनुरोध करेंगे कि वह हमारे राजनयिकों को नियमित पहुंच की अनुमति दें और बिना किसी आरोप के हिरासत में लिए गए राजनीतिक नेताओं को रिहा करने के लिए तेजी से कदम बढ़ाएं।’

बता दें कि हाल ही में अमेरिका, वियतनाम, बांग्लादेश, मालदीव, मोरक्को, फिजी, नॉर्वे, फिलीपींस, अर्जेंटीना समेत 15 देशों के राजदूतों ने कश्मीर घाटी का दौरा किया था और वहां के हालात का जायजा लिया था।

उन्होंने एक ट्वीट में कहा था कि वह भारत में अमेरिकी राजदूत तथा अन्य विदेशी राजनयिकों की जम्मू-कश्मीर यात्रा पर बारीकी से नजर रखी हुई हैं। यह एक महत्वपूर्ण कदम है। हम नेताओं, लोगों को हिरासत में लिए जाने और इंटरनेट पर प्रतिबंध से चिंतित हैं। हमें उम्मीद है कि स्थिति सामान्य होगी।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles