akram

akram

अमेरिका द्वारा फिलिस्तीन को दी जा रही आर्थिक सहायता में कटौती करने पर मस्जिदुल अक्सा के इमाम व खतीब और प्रमुख आलिमे दीन शैख़ अकरमा साबरी ने कहा कि फिलिस्तीन अमेरिका की भीख नहीं लेगा.

उन्होंने मुस्लिम और अरब मुल्कों से अपील करते हुए कहा कि अमेरिका की और से दी जाने वाली मदद को मुस्लिम मुमालिक पूरी कर दे तो ये मदद लेने की जरूरत ही नहीं पड़ेगी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने कहा कि एक साजिश के तहत फिलिस्तीनियों की वापसी सहित अन्य अधिकारों को खत्म करने की कोशिश की जा रही है. उन्होंने कहा, फिलिस्तीनियों को पहले उनके घरो से निकाला गया. हालांकि अब भी वह ही फिलिस्तीन के वारिस है.

उन्होंने कहा, फिलिस्तीनियों को उनके घरों से घसीटकर निकाला गया. उनके बच्चों और पोतों को भी शरणार्थी बना दिया गया लेकिन अपने देश के असल वारिस अब भी वह ही हैं.

इमाम ए अक्सा ने कहा, फिलिस्तीनी शरणार्थियों का मामला हमेशा कायम रहेगा. जब तक फिलिस्तीनी शरणार्थियों की देश वापसी सुनिश्चित नहीं बन जाती. उस समय तक वह अपने अधिकार पाने के लिए संघर्ष जारी रखेंगे.