इंडोनेशिया में बाल विवाह सहित कई मुद्दों पर महिला आलिमों ने फतवे दिए हैं. विश्व की सबसे बड़ी मुस्लिम आबादी वाले देश में तीन दिवसीय सम्मेलन के समापन पर ये फतवे दिए गए हैं. जिसमे दुनिया भर के आलिमों ने भी हिस्सा लिया.

जावा द्वीप के सिरेबॉन में आयोजित इस सम्मलेन में महिला आलिमों ने सरकार से कहा है कि लड़कियों की शादी की न्यूनतम उम्र 16 से बढ़ाकर 18 कर दी जाए. बता दें कि इंडोनेशिया एक मुस्लिम बहुल देश है और यहाँ कम उम्र की शादियों की संख्या सबसे ज़्यादा है.

सम्मेलन में शामिल हुए धार्मिक मामलों के मंत्री लुक्मान हकीम सैफुद्दीन ने प्रस्ताव पर प्राधिकारियों की ओर से गौर किए जाने का संकेत देते हुए कहा ‘‘मैं इस सिफारिश को सरकार के समक्ष पेश करूंगा.’’ उन्होंने सम्मेलन की सराहना करते हुए कहा, ‘‘यह सम्मेलन महिलाओं एवं पुरूषों के संबंधों में न्याय के लिए लड़ने में सफल रहा.”

इसके अलावा महिलाओं के यौन शोषण के खिलाफ और एक पर्यावरण संरक्षण को लेकर भी फतवे दिए गए. इंडोनेशिया में नियमित रूप से फतवे जारी किए जाते हैं लेकिन इनको  ‘इंडोनेशियान उलेमा काउंसिल’ जारी करती है. यह देश का सबसे बड़ी इस्लामिक संस्था है.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें