ll

ll

फलस्तीन के प्रधानमंत्री रामी हमदल्ला की गज़ा पट्टी की यात्रा के बाद हमास ने इस क्षेत्र का शासन फिलिस्तीनी सरकार को सौंप दिया है. ध्यान रहे 2007 से ही हमास यहाँ का शासन चला रहा था.

ये फैसला गाजा पट्टी में पिछले महीने सरकार को भंग करने के बाद लिया गया है. यह कदम मिस्र, सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात की ओर से क़तर पर दबाव बनाने के लिए किया गया था. दरअसल, हमास को सहायता देने वालो में क़तर सबसे आगे रहा है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

फलस्तीन के प्रधानमंत्री रामी हमदल्ला ने गज़ा में 2014 के बाद पहली कैबिनेट बैठक ली. इस दौरान गाजा पट्टी प्रशासन का औपचारिक हस्तांतरण मंगलवार को पूरा कर लिया गया. जिसकी पुष्टि फलस्तीन सरकार के प्रवक्ता यूसुफ अल-महमूद ने की है.

बैठक में गज़ा के पुननिर्माण के लिए बैठक के साथ सरकारी काम भी शुरू कर चुके हैं. बिनेट बैठक के दौरान प्रधानमंत्री ने मंत्रियों से कहा कि वे गाजा पट्टी के बाशिदों के जीवनस्तर में सुधार के लिए विस्तृत रिपोर्ट तैयार करें.

इस पुरे मामले में मिस्र की भूमिका ख़ास रही. अब हमास मूवमेंट ने फलस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास से अपील है कि वह उस पर लगे प्रतिबंध को समाप्त कर दें.

Loading...