Friday, January 28, 2022

यूनान देगा फ़िलिस्तीनी को अलग देश की मान्यता

- Advertisement -

शनिवार को यूनानी संसद के प्रतिनिधिमंडल और फ़िलिस्तीनी लेजिस्लेटिव काउंसिल में मौजूद राजनैतिक दलों के बीच अतिग्रहित पश्चिमी तट के रामल्ला शहर में बैठक में यूनान की सत्ताधारी पार्टी सिरिज़ा के विधायकों ने फ़िलिस्तीनी राजनैतिक दलों के सदस्यों से कहा है कि एथेन्ज़ एक अलग फ़िलिस्तीनी देश को आधिकारिक रूप से मान्यता देने का इरादा रखता है।

फ़िलिस्तीनी लेजिस्लेटिव काउंसिल के अनुसार, यूनानी विधायकों ने इस बात की पुष्टि की कि एथेन्ज़ सरकार जल्दी ही अलग फ़िलिस्तीनी देश को मान्यता देगी। हालांकि लेजिस्लेटर्ज़ ने समय सीमा का उल्लेख नहीं किया कि एथेन्ज़ कब आधिकारिक रूप से मान्यता देने का इरादा रखता है।

पिछले साल यूनानी संसद ने उस प्रस्ताव के पक्ष में मतदान किया जिसमें यूनान सरकार से फ़िलिस्तीनी देश को मान्यता देने की सिफ़ारिश की गयी थी। जिस समय इस संदर्भ में यूनानी संसद में मतदान हुआ था उस समय स्वशासित फ़िलिस्तीनी प्रशासन के कार्यवाहक अध्यक्ष महमूद अब्बास और यूनानी प्रधान मंत्री एलेक्सिस सिप्रास वहां मौजूद थे। इस मतदान के बावजूद अभी तक वास्तविक रूप में मान्यता दिए जाने का क़दम व्यवहारिक नहीं हो पाया है।

फ़िलिस्तीनी लेजिस्लेटिव काउंसिल ने रामल्ला का दौरा करने वाले यूनानी प्रतिनिधिमंडल के हवाले से बताया कि कुछ हालात की वजह से यूनान द्वारा फ़िलिस्तीनी देश की मान्यता का काम विलंबित हो गया लेकिन ऐसा जल्द ही होगा।

ज्ञात रहे यूनान द्वारा अलग फ़िलिस्तीनी देश को मान्यता दिए जाने की स्थिति में यह स्वीडन के बाद दूसरा यूरोपीय देश होगा जिसने अलग फ़िलिस्तीनी देश को आधिकारिक रूप से मान्यता दी है। स्वीडन ने 2014 में अलग फ़िलिस्तीनी देश को मान्यता दी है।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles