Friday, January 28, 2022

लड़कियों के सायकल चलाने से भड़कती हैं मर्दों की भावना : यहूदी धर्मगुरु

- Advertisement -

यहूदी धर्मगुरु नहलूत ने महिलाओं के लिए सायकल न चलाने का फरमान जारी करते हुए कहा हैं कि लड़कियों के लिए साइकिल चलाने के बहुत नुक़सान हैं. सायकल की सिट पर बेठने से पुरुषों की भावनाएं भड़कती हैं.

रशिया टुडे के अनुसार यहूदी धर्मगुरु ने कहा, “पिताओं से कहा है कि वे 5 साल से ज़्यादा उम्र की लड़कियों को साइकिल न चलाने दें और उनसे कहें कि साइकिल की गद्दी पर बैठना धर्म के ख़िलाफ़ है।”

यहूदी धर्मुगुरुओं का इस तरह का फरमान पहली बार नहीं हैं. इससे पहले हरीदीम यहूदी गुट ने पिछले साल दिसंबर में बनी बराक शहर में लड़कियों के ग्रेजुएट कॉलेज में प्रवेश पर रोक लगाने की मांग की थी.

इस गुट का मानना है कि इस तरह के शिक्षा केन्द्र लड़कियों को ख़तरनाक बातों की शिक्षा देते हैं. हरीदीम गुट यहूदी समाज में स्मार्ट फ़ोन और इंटरनेट के इस्तेमाल पर रोक लगाने की वकालत भी करता आया हैं.

 

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles