Monday, June 14, 2021

 

 

 

ढाका में मोदी विरोध हुआ हिंसक, चार प्रदर्शनकारियों की हुई मौत

- Advertisement -
- Advertisement -

शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ढाका यात्रा के दौरान हिंसक प्रदर्शनों में चार प्रदर्शनकारियों की मौत हो गई। प्रदर्शनकारियों की गोली लगने से मौत हुई है।

पुलिस ने कहा कि हिफाजत-ए-इस्लाम के सदस्यों के चार शवों को चटगांव मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाया गया था, ये शव एक ग्रामीण शहर हैथजारी में हिंसा भड़कने के बाद सामने आये  हैं।

अस्पताल के एक पुलिस निरीक्षक अलाउद्दीन तालुकर ने एएफपी को बताया, “हमें यहां चार शव मिले। वे सभी गोलियों से मारे गए हैं। उनमें से तीन मदरसे के छात्र और एक अन्य दर्जी हैं।” उन्होंने यह नहीं बताया कि प्रदर्शनों में किसने गोलियां चलाईं।

वहीँ  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक संबोधन में कहा कि उन्होंने और उनके साथियों ने बांग्लादेश के लोगों की आजादी के लिए सत्याग्रह किया था। पीएम मोदी ने कहा, “मेरी उम्र 20-22 साल रही होगी जब मैंने और मेरे कई साथियों ने बांग्लादेश के लोगों की आजादी के लिए सत्याग्रह किया था… बांग्लादेश की आजादी के लिए संघर्ष में शामिल होना, मेरे जीवन के भी पहले आंदोलनों में से एक था।

इससे पहले अपने संबोधन की शुरुआत में पीएम मोदी ने कहा, “राष्ट्रपति अब्दुल हामिद, प्रधानमंत्री शेख हसीना और बांग्लादेश के नागरिकों का मैं आभार प्रकट करता हूं। आपने अपने इन गौरवशाली क्षणों में, इस उत्सव में भागीदार बनने के लिए भारत को सप्रेम निमंत्रण दिया।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles