Turkey and Russia to focus on their battle forgotten IS OBAMA

नई दिल्ली: अमेरिका के सेकेंडरी स्कूलों में लड़कियो के साथ सेक्सुल एसॉल्ट की वारदात बढ़ती जा रही हैं। राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इस पर चिंता जतायी है और सिविल सिक्योरिटी डिपार्टमेंट के अधिकारियों को सचेत किया है। अलबामा के एक मिडिल स्कूल के बाथरूम में आठवीं कक्षा कि एक छात्रा के साथ हुए रेप की घटना पूरे अमेरिका में चर्चा का विषय बनी हुई है। कहा जाने लगा है कि अमेरिकी स्कूल में लड़कियों को सुरक्षित शिक्षा देने में नाकाम हो चुके हैं।

अमेरिकी एजुकेशन डिपार्टमेंट में सिविल राइट्स की सेक्रेटरी कैथरीन लहमैन ने कहा कि कॉलेज कैम्पस की तरह मिडिल स्कूलों के कैम्पस में भी सेक्सुअल वॉयलेंस की घटनाओं में बढ़ोतरी हो रही है। यह चिंता का विषय जरूर है। हमें सामाजिक ताने-बाने में सुधार पर जोर देना चाहिए। क्यों बच्चों को वयस्क अपराधियों की तरह की सजा नहीं दी जा सकती।

इलिनियोस की यूनिवर्सिटी की एक रिसर्च के मुताबिक अमेरिका के मिडिल स्कूलों में 21 फीसदी से ज्यादा लड़कियां ‘अनवांटेड फिजिकल एसॉल्ट’ की शिकार हो रही हैं। जबकि 10 फीसदी लड़कियों और चार फीसदी लडकों के साथ जबरन फिजिकल रिलेशन बनाये जाते हैं। जबकि कॉलेज कैंपस में हर पांचवी लड़की सेक्सुअल एसॉल्ट का शिकार हो रही है। साभार: न्यूज़ 24


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें