इस्राईल अब अंतराष्ट्रीय कानूनों को ताक पर रख अपनी मनमानी करने लगा हैं. इसी के तहत एक मामला और सामने आया हैं. इस्राईल की जेल से स्वतंत्र होने वाले दर्जनों फ़िलिस्तीनियों के घरों में इस्राईल ने गुप्त कैमरे लगाकर जासूसी की हैं.

जार्डन नदी के पश्चिमी तट पर रहने वाले फ़िलिस्तीनियों के घरों के क्रेकडाऊन में से ये कैमरे निकले हैं. जिसके बाद फिलिस्तीनियों में काफी गुस्सा हैं. फ़िलिस्तीनियों ने घोषणा की है कि उन्होंने अपने घरों से दसियों इस्राईल के गुप्त कैमरे बरामद किए हैं जिन्हें इस्राईली सैनिकों ने घरों पर छापे के दौरान गुप्त रूप से घरों में लगाए थे.

पश्चिमी तट के तक़्वअ शहर के निवासी अबू मुहम्मद जिब्राईल ने कहा कि कल मुझे घर के मुख्य दरवाज़े पर एक छोटी सी काले रंग की संदिग्ध वस्तु दिखाई दी और मैं जैसे ही उससे निकट हुआ क्योंकि वह मुझे आश्चर्यजनक दिख रही थी, मैंने उसे निकाल लिया, इसको इस तरह से छिपाकर लगाया गया था कि कभी दिख ही नहीं सकता था.

उनका कहना था कि मैं इस वस्तु को अपने एक निकटवर्ती दोस्त के पास ले गया, जब उसने उस वस्तु को अलग किया तो मुझे बहुत आश्चर्य हुआ कि यह तो एक छोटा सा सीसी टीवी कैमरा था. मैंने तुरंत सुरक्षा एजेन्सियों को इसकी जानकारी दी और उक्त कैमरे को उनके हवाले कर दिया, घर में अधिक छानबीन के बाद अन्य कैमरे बरामद हुए.

जिब्राईल का कहना है कि इसी तरह अन्य फिलिस्तीनियों के घरों में भी छानबीन के बाद पता चला कि इस्राईल के गुप्त कैमरे लगे हुए हैं.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें