तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैय्यब एर्दोगान ने जेरुसलम पर सयुंक्त राष्ट्र महासभा में हुए मतदान के परिणाम पर ख़ुशी जाहिर की है. साथ ही अमेरिका की राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प से फैसले को बिना किसी देरी के बदलने की मांग की है.

एर्दोगान ने ट्वीट कर कहा, हम अल-कुद्स अल-शरीफ पर ऐतिहासिक प्रस्ताव के लिए संयुक्त राष्ट्र महासभा के भारी समर्थन के साथ बहुत खुशी से स्वागत करते हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने आगे लिखा, “हम अपेक्षा करते हैं कि ट्रम्प प्रशासन बिना किसी देरी के दुर्भाग्यपूर्ण निर्णय को रद्द कर दे, जिसकी अवैधता को संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा स्पष्ट रूप से स्थापित किया गया है.

Turkey welcomes UN censure of US Jerusalem move

एर्दोगान ने कहा, मेरी और तुर्की के लोगों की ओर से, मैं उन सभी लोगों के प्रति अपनी आभार व्यक्त करता हूं जो फिलिस्तीन और अल-कुद्स अल-शरीफ पर समर्थन करते हैं.

वहीँ तुर्की के प्रधान मंत्री ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र के संकल्प ने इस क्षेत्र में “शांति प्रयासों के लिए एक नया अवसर बनाया.” उन्होंने कहा, येरूशलेम पर संयुक्त राष्ट्र के संकल्प ने एक बार फिर पूरी दुनिया को यह घोषणा की है कि जो सही हैं, वहीँ शक्तिशाली हैं.”