तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोआन ने शुक्रवार को धमकी देते हुए कहा कि उनका देश इराक के साथ संयुक्त अभियान शुरू कर सकता है ताकि पीकेके आतंकवादियों को सिंजर क्षेत्र से बाहर निकाला जा सके।

एर्दोआन ने शुक्रवार को इस्तांबुल में जुम्मे की नमाज के बाद कहा, “तुर्की पीकेके के खिलाफ इराक के साथ संयुक्त अभियान चलाने के लिए हमेशा तैयार है, लेकिन हम इस तरह के ऑपरेशन के लिए तारीख की घोषणा नहीं कर सकते।”

उनकी टिप्पणी पीकेके आतंकवादी संगठन पर शिकंजा कसने के लिए सिंजर क्षेत्र में संभावित संयुक्त आतंकवाद विरोधी ऑपरेशन के बारे में एक सवाल के जवाब में आई। एर्दोआन ने “हम रात में कभी भी वहां आ सकते हैं, वह भी अचानक”

टर्किश डेली सबा अखबार के मुताबिक नीय यज़ीदी समुदाय को दाएश से बचाने के बहाने पीकेके आतंकवादी समूह 2014 के मध्य में सिंजर में एक पैर जमाने में कामयाब रहा। अखबार ने कहा, पीकेके ने उत्तरी इराक के कंदील पहाड़ों में अपने मुख्य मुख्यालय स्थापित किया।

इससे पहले तुर्की के रक्षा मंत्री हुलसी अकार ने इस हफ्ते की शुरुआत में इराक के शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठकों के बाद पुष्टि की कि पीकेके की उपस्थिति को समाप्त करने के लिए तुर्की बगदाद और एरबिल को सहायता प्रदान करने के लिए तैयार है।

9 अक्टूबर, 2020 को, बगदाद और एरबिल ने कुर्दिस्तान में बलों के सहयोग से संघीय सुरक्षा बलों द्वारा सिंजार में सुरक्षा बनाए रखने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए।