तुर्की के राष्ट्रपति रसेप तय्यिप एर्दोगान ने वॉशिंगटन के साथ रद्द किये गए 1.2 मिलियन डॉलर के हथियार सौदे के फैसले पर प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा कि व्हाइट हाउस सीरिया में आतंकवादियों को हथियारों की आपूर्ति कर रहा है. इसलिए ये सौदा रद्द किया गया.

सोमवार को पीबीएस के साथ एक साक्षात्कार में, एर्दोगान ने सीरिया के कुर्दों को आतंकवादी बताते हुए कहा, “हमें अमेरिका के साथ इन आतंकवादियों से लड़ने की जरूरत है.”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा, “जब हम संयुक्त राज्य अमेरिका से हथियार हासिल करने में सक्षम नहीं हैं, तो आप उन हथियारों को आतंकवादियों के लिए क्यों दे रहे हैं? यह एक सवाल है कि हम अपने दोस्तों को संयुक्त राज्य अमेरिका में पूछते हैं और जब इन सवालों का जवाब नहीं दिया जाता है, तो हमें अफसोस होता है, जैसा कि अमेरिका के रणनीतिक भागीदारों के रूप में से है.

एर्दोगान के सोमवार को एपी को बताया था कि तुर्की अमेरिका के साथ एक बड़े सौदे को रद्द कर रहा है, जिसमें हथियारों की 1.2 मिलियन डॉलर की खरीद होनी थी, जिसमें सैकड़ों अर्ध-स्वचालित हैंडगंस और गोला-बारूद शामिल थे.

तुर्की राष्ट्रपति ने ये फैसला मई में वाशिंगटन यात्रा के दौरान, उनके अंगरक्षकों द्वारा कुर्दिश प्रदर्शनकारियों पर हिंसक रूप से समर्थक हमला करने के बाद की अमेरिका की कार्रवाई के चलते किया.

Loading...