erd1

तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तय्यिप एर्दोगान ने शनिवार को कहराममानराज में एक भाषण के दौरान एक युवा लड़की से कहा कि आप शहीद हो गए हैं, तो हम आपको तुर्की ध्वज के साथ सम्मान देंगे.

ये विवादित घटना उस वक्त सामने आई जब एर्दोगान सत्तारूढ़ जस्टिस एंड डेवलपमेंट पार्टी (एकेपी) के एक प्रांतीय कांग्रेस को संबोधित कर रहे थे. तुर्की के नेता ने इस अवसर का इस्तेमाल सीरिया में कुर्द सैनिकों को निशाना चलाने वाले चल रहे सैन्य अभियान के लिए सार्वजनिक समर्थन जुटाने की कोशिश की.

इस दौरान उन्होंने मंच पर एक पांच साल की लड़की को बुलाया. जो तुर्की सैनिकों की वेशभूषा में थी. एर्दोगान ने लड़की को गले लगाया और बताया कि इस लड़की के पास तुर्की का झंडा भी है. उन्होंने कहा, “अगर वह शहीद हो गई, तो उसे तुर्की के झंडे के साथ सम्मानित किया जाएगा. उन्होंने पूछा, वह इसके लिए तैयार है, ना. जिसके बाद लड़की “हां” में जवाब दिया.

एर्डोगान के जनसंपर्क अधिकारी अर्टगुरुल कुर्कुकू ने बताया कि ये सब करने का मकसद ये बताना था कि जिससे बच्चों को पता चल सके कि यह युद्ध वैध है.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें