erdogan
source: haaretz
erdogan
source: haaretz

मुस्तफा कमाल अतातुर्क के शासन के बाद से ही तुर्की पश्चिम सभ्यता की और झुकता हुआ नजर आया लेकिन एक बार फिर से तुर्की अब ओटोमन साम्राज्य की और लौट रहा है.

वर्तमान राष्ट्रपति रजब तैय्यब एर्दोगान के शासन में तुर्की ओटोमन साम्राज्य की उन्ही पुरानी जड़ों को विकसित करने की कोशिश कर रहा है. जिसे अतातुर्क के शासन के बाद से ही भुला दिया गया था. रायटर की रिपोर्ट के अनुसार, एर्दोगान इस्लामिक तालीम से एक नई पीड़ी खड़ी करना चाहते है. जो तुर्की में एक नई सभ्यता के निर्माण के लिए काम करेगी.

हाल के भाषणों में एर्दोगान ने तुर्की के ओट्मन इतिहास और पश्चिमी विचारों और प्रभावों पर घरेलू उपलब्धियों पर बल दिया है. इसके लिए एर्दोगान ने अपनी कोशिशे भी शुरू कर दी है. इस्लामिक तालीम के लिए अरबों डॉलर का धन दिया जा रहा है. स्कूलों में इमामों की नियुक्ति की जा रही है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

एक सरकारी सलाहकार ने रॉयटर्स को बताया कि इस्लाम लोगों को मजबूर नहीं करता है यह कहने का मामला नहीं है कि सभी को इस्लाम के बारें में जानना चाहिए. हम उन परिवारों को सिर्फ एक मौका प्रदान कर रहे हैं जो अपने बच्चों को इस्लामिक शिक्षा देना चाहते है.

अब देखना होगा कि एर्दोगान की ओट्मन साम्राज्य के पुनरुत्थान की योजना को तुर्की की जनता का कितना समर्थन मिलता है. वह भी ऐसी स्थिति में जब तुर्की के पश्चिम के साथ संघर्ष बढ़ रहे है.