यूरोपीय यूनियन तुर्की के साथ तनाव पर दिसंबर में चर्चा करने की तैयारी कर रहा है। इसी बीच तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन ने बातचीत पर ज़ोर देते हुए कहा कि पूर्वी भूमध्य सागर पर बढ़ रहे तनाव के बीच यूरोपीय संघ को “दुश्मनी के उपकरण” नहीं बनने की चेतावनी दी।

तुर्की-यूरोपीय संघ के संबंधों पर अएर्दोगन ने कहा कि तुर्की यूरोप में अपना भविष्य देखता है, और न्यायिक बुनियादी ढांचे में सुधार और अर्थव्यवस्था और अन्य सुधारों को मजबूत करने के लिए तुर्की ने अपनी योजनाओं का उल्लेख किया।हालांकि, पर्यवेक्षकों का कहना है कि तुर्की सभी वार्ताओं के बावजूद यूरोपीय संघ का सदस्य बनने का कोई मौका नहीं छोड़ता है।

इस हफ्ते की शुरुआत में, ईयू के विदेश नीति प्रमुख, जोसेप बोरेल ने कहा कि तुर्की “सकारात्मक संकेत” नहीं भेज रहा है और भूमध्य सागर में यूरोपीय संघ के सदस्यों ग्रीस और साइप्रस के साथ हाइड्रोकार्बन विवाद के बारे में अपने दृष्टिकोण को मौलिक रूप से बदलने की आवश्यकता है।

यूरोपीय नेताओं का कहना है कि वे अपने आगामी शिखर सम्मेलन में किसी भी संभावित प्रतिबंधों पर चर्चा करने से पहले अगले कुछ हफ्तों में तुर्की के कदमों को देखेंगे। तुर्की अभी भी यूरोपीय संघ का सदस्य बनने के लिए एक उम्मीदवार है।

रायटर के अनुसार, एर्दोआन ने अपनी एके पार्टी के सदस्यों के लिए एक भाषण में कहा, “हम खुद को यूरोप के एक अविभाज्य भाग के रूप में देखते हैं … हालांकि इसका मतलब यह नहीं है कि हम अपने देश और राष्ट्र पर हुए हमलों, अन्याय और दोहरे मापदंड के खिलाफ झुकेंगे।”

उन्होंने अपनी टिप्पणियों में कहा कि “हम यह नहीं मानते हैं कि हमें उन देशों या संस्थानों के साथ कोई समस्या है, जिन्हें राजनीति, वार्ता और वार्ता के माध्यम से हल नहीं किया जा सकता है।”

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano