एर्दोगान ने ट्रंप की चिट्ठी को रद्दी में फेंक दिया था सीरिया पर ह’म’ले का आदेश

5:07 pm Published by:-Hindi News

तुर्की सेनाओं द्वारा उत्तरी सीरिया में कुर्दिश फौज पर आक्रामक हमलों के बाद अमेरिका और तुर्की के बीच अहम समझौता हुआ। अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने गुरुवार को मीडिया को जानकारी दी कि तुर्की ने पांच दिनों के संघर्ष विराम पर सहमति व्यक्त की है।

समझौते के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि यह सौदा तीन दिन पहले तक नहीं हो सकता था। इसे पूरा करने के लिए कुछ कठिन प्रेम की आवश्यकता थी। सबके लिए अच्छा है। सभी पर गर्व है।

ट्रंप ने कहा कि उनके लिए एक महान दिन है। अमेरिका के लिए गर्व की बात है। इस समझौते के लिए कई साल से कोशिश चल रही थी। करोड़ों जिंदगियां बच जाएंगी। सभी को बधाई।

हालांकि इसी बीच बीबीसी ने एक रिपोर्ट में दावा किया कि सीरिया से अमरीकी फ़ौज की वापसी के बाद राष्ट्रपति ट्रंप ने 9 अक्तूबर को तुर्की के राष्ट्रपति को जो सरकारी चिट्ठी भेजी थी। उसे अर्दोआन ने उसे सीधे रद्दी में फेंक दिया था।

ट्रंप ने ये चिट्ठी तुर्की को ये अनुरोध करने के लिए लिखी थी कि वो उत्तरी सीरिया में कुर्दों की अगुआई वाली सेना के ख़िलाफ़ सैन्य कार्रवाई ना करे। लेकिन अर्दोआन ने उनकी इस चिट्ठी को रद्दी में डाल दिया और हमले का आदेश दे दिया।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें