erd

शनिवार को सीरिया के आफरीन में तुर्की सेना की जमीनी कार्रवाई का ऐलान करते हुए राष्ट्रपति रजब तैय्यब एर्दोगान ने कहा कि सीरिया में अफरीन के बाद मानबिज में भी एक अभियान आएगा क्योंकि “तुर्की ने कोई वादा नहीं किया हुआ है.”

उन्होंने कहा, आतंकवादी समूहों के नाम बदलने से तुर्की को संतुष्ट नहीं किया जा सकता. उन्होंने कहा, “पीकेके, वाईपीजी, पीवाईडी सभी हमारे लिए समान हैं. बदलते नाम इस तथ्य को नहीं बदलते हैं कि वे आतंकवादी संगठन हैं.”

एर्दोगान ने कहा, “वे आतंकी संगठनो के नामों को बदलकर, सीरिया में अपने तरीके से खेल खेल रहे हैं. उन्होंने कहा, आप कोई मजाक कर रहे हैं? यह एक ही संगठन है. जिसका नाम अब पीकेके, पीवाईडी, वाईपीजी है.”

उन्होंने पीकेके के साथ काम करने के लिए संयुक्त राज्य की आलोचना की, जो संगठन अमेरिका और यूरोपीय संघ की आतंकवादी सूची में है.

तुर्की राष्ट्रपति ने कहा, “वे वास्तव में अच्छी तरह से जानते हैं. वे तुर्की और दुनिया को धोखा देने के लिए अपनी पूरी कोशिश कर रहे हैं.” एर्दोगान ने यह भी कहा कि तुर्की “आतंकवाद को स्पष्ट करेगा जो उनके देश को इराकी सीमा तक घेरने की कोशिश कर रहा है”

एर्दोगान ने कहा, “मैं एक बात स्पष्ट रूप से रेखांकित करना चाहता हूं. हम सीरिया के क्षेत्रीय अखंडता और इसके स्वतंत्र, समृद्ध भविष्य पर कोई नकारात्मक विचार नहीं करते हैं. इसके विपरीत, हम अपने स्वयं के राष्ट्रीय सुरक्षा, साथ ही हमारे 13 मिलियन सीरियाई भाइयों और बहनों – जो कि विस्थापित हैं – [उनकी] सुरक्षा, शांति और भविष्य सुनिश्चित करने के लिए कदम उठा रहे हैं.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें








Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें