gua

gua

लेटिन अमेरिकी देश ग्वाटेमाला द्वारा अपने दूतावास को तेलअवीव से जेरुसलम शिफ्ट करने की योजना पर इजराइल को बड़ा झटका लगा है.

इर्ना की रिपोर्ट के अनुसार ग्वाटेमाला के उच्चतम न्यायालय ने दूतावास को तेलअवीव से जेरुसलम स्थानांतरित करने की राष्ट्रपति की मांग को ठुकरा दिया है.

ध्यान रहे ग्वाटेमाला के राष्ट्रपति मोरालिस ने सयुंक्त राष्ट्र के खिलाफ जाकर अपने दूतावास को तेलअवीव से जेरुसलम शिफ्ट करने का ऐलान किया था. दरअसल, ग्वाटेमाला उन देशों में शामिल था जिन्होंने संयुक्त राष्ट्र महासभा में 21 दिसंबर को तुर्की और यमन की और से जेरुसलम से जुड़े प्रस्ताव के खिलाफ वोटिंग की थी.

इस प्रस्ताव में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के उस फ़ैसले को अमान्य घोषित किया गया था. जिसमे उन्होंने जेरुसलम को इजराइल की राजधानी होने का ऐलान किया था. इस प्रस्ताव के समर्थन में 128 देशों ने मतदान किया था. जबकि सिर्फ़ नौ देशों ने ही इसका विरोध किया था. साथ ही 35 देश मतदान में शामिल नहीं हुए थे.

विरोध में वोट करने वाले देशों में ग्वाटेमाला, होन्डुरस, मार्शल द्वीप, माइक्रोनीसिया, नाउरू, पलाउ और टोगो थे. इन देशों को लाखों डॉलर में कथित तौर पर इजरायल ने खरीदा था.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें