तुर्की: एर्दोगन की पार्टी को लगा बड़ा झटका – इस्तांबुल के मेयर चुनाव में मिली हार

10:26 am Published by:-Hindi News

राष्ट्रपति रैचेप तैयप अर्दोआन की पार्टी को बड़ा झटका लगा है। प्रमुख विपक्षी पार्टी सेक्युलर रिपब्लिकन पीपुल्स पार्टी (सीएचपी) के उम्मीदवार इकरम इमामोग्लू ने इस्तांबुल के मेयर चुनाव में जीत दर्ज की है।

तुर्की के सरकारी न्यूज चैनल के मुताबिक 95 फीसदी वोटों की गिनती में इमामोग्लू 53.6 फीसदी मत पाकर आगे चल रहे हैं। इमामोग्लू ने मार्च में भी मेयर के चुनाव में जीत हासिल कर सबको चौंकाया था, लेकिन अनियमितताओं के आरोप के बाद चुनाव को ख़ारिज कर दिया गया था।

25 साल में यह लगातार दूसरा मौका है जब तुर्की के सबसे बड़े शहर इस्तांबुल पर राष्ट्रपति रैचप तैय्यप एर्दोआन और उनकी पार्टी को नियंत्रण खोना पड़ा है।र्दोआन ने कुछ वक़्त पहले चुनावी कैंपेन के दौरान ख़ुद कहा था कि ‘जो कोई भी इस्तांबुल जीतेगा वह तुर्की जीतेगा।

अर्दोआन ने विजेता इमामोग्लू को जीत की बधाई दी है। सीएचपी विपक्षी पार्टी के उम्मीदवार इमामोग्लू ने अपनी जीत पर ख़ुशी ज़ाहिर करते हुए इसका सारा श्रेय उन लोगों को दिया है जो लोकतंत्र पर यक़ीन करते हैं। उन्होंने कहा कि यह शहर और देश के लिए नई शुरुआत है।

इस्तांबुल तुर्की की आर्थिक और सांस्कृतिक राजधानी है. यहां पर डेढ़ करोड़ लोग रहते हैं। यह तुर्की की जीडीपी में 31 फीसदी योगदान देता है। अर्दोआन ने भी साल 1994 में तुर्की के मेयर के तौर पर अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत की थी। अर्दोआन ने साल 2001 में एकेपी का गठन किया था और राष्ट्रपति बनने से पहले 2003 से 2014 तक देश के प्रधानमंत्री रहे थे।

जोखिमों का विश्लेषण करने वाली फर्म टेनेको इंटेलिजेंस के वोल्फ पिकोली कहते हैं कि दूसरी बार मिली हार रैचप तैय्यप एर्दोआन के लिए बड़ी मानहानि की बात होगी। वह आगे कहते हैं कि 20 साल बाद पहली बार एर्दोआन को इमामोग्लू के रूप में राजनैतिक चुनौती मिली है।

इस चुनाव में रिपब्लिकन पिपुल्स पार्टी, सीएचपी, अर्दोआन की पार्टी जस्टिस एंड डेवलपमेंट पार्टी(एके पार्टी) दोनों उम्मीदवारों में से किसी न किसी उम्मीदवारों का समर्थन किया है।

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें