Monday, June 14, 2021

 

 

 

रूस और मिस्र के बीच हुई बातचीत, मिलकर बोले – इज़राइल गाजा पर रोक दे हमले

- Advertisement -
- Advertisement -

मिस्र के विदेश मंत्री समीह शौरी और उनके रूसी समकक्ष सर्गेई लावरोव ने गुरुवार को सहमति व्यक्त की कि इजरायल को गाजा पट्टी पर हमलों को रोकने की जरूरत है।

मिस्र के विदेश मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, एक फोन कॉल में, दोनों शीर्ष राजनयिकों ने दोहराया कि इजरायल को रक्तपात को रोकना चाहिए। फिलिस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि गाजा पर इजरायल के हमलों में 83 फिलिस्तीनियों की मौत हो गई और 487 अन्य घायल हो गए।

पिछले सप्ताह इजरायल की एक अदालत द्वारा पूर्वी यरुशलम के शेख जर्राह पड़ोस से फिलिस्तीनी परिवारों को बेदखल करने के आदेश के बाद से तनाव अधिक चल रहा है।

इससे पहले तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन और रूस के व्लादिमीर पुतिन ने गाजा के ताजा हालात को लेकर फोन पर चर्चा की। इस दौरान तुर्की के राष्ट्रपति ने कहा, अंकारा इजरायल के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय कार्रवाई चाहता है।

तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन और रूस के व्लादिमीर पुतिन ने गाजा के ताजा हालात को लेकर फोन पर चर्चा की। इस दौरान तुर्की के राष्ट्रपति ने कहा, अंकारा इजरायल के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय कार्रवाई चाहता है।

एर्दोगन ने कहा कि राष्ट्रों को “फिलिस्तीनी नागरिकों की सुरक्षा के लिए क्षेत्र में एक अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा बल भेजने के विचार” पर भी चर्चा करनी चाहिए। उन्होने कहा, “संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को शामिल होना चाहिए, संकट बढ़ने से पहले इसराइल को हमलों को रोकने के लिए स्पष्ट संदेश दें।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles