Sunday, September 26, 2021

 

 

 

राष्ट्रपति सीसी के फरमान से मिस्र में हड़कंप, सभी इमारतों को एक रंग में रंगने का दिया आदेश

- Advertisement -
- Advertisement -

ममी और पिरामिड को लेकर पूरी दुनिया में प्रसिद्ध मिस्र की सरकार ने एक विचित्र फरमान जारी किया है। जिसके बाद से काहिरा की जनता परेशान है।

दरअसल, राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सिसी ने निर्देश जारी किया कि नील नदी के किनारे बसे राजधानी काहिरा की सभी इमारतें मटमैले रंग की दिखनी चाहिए। और नदी के किनारे बसे इलाकों में इलारतें नीले रंग की होनी चाहिए। यही नहीं इमारतों के रंग-रोगन काम भी मार्च महीने तक हो जाना चाहिए। अगर ऐसा नहीं हुआ तो इसके लिए जिम्मेदार कर्मचारियों और मकान मालिकों को सजा दी जाएगी।

फरमान में हिदायत देते हुए कहा गया है कि जो यह काम नहीं करेगा तो इसके लिए जिम्मेदार कर्मचारियों और मकान मालिकों को सजा दी जाएगी। इस फरमान की सबसे खास बात यह है कि यह सब मकान मालिकों और कर्मचारियों को अपने खर्च पर करना होगा। इस काम के लिए सरकार किसी तरह का कोई भी अनुदान नहीं देगी।

राष्ट्रपति के फरमान का पीएम प्रधानमंत्री मोस्तफा मेडबोली ने भी केबिनेट में समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि, ‘सभी इमारतों का कलर मटमैला होना चाहिए। अगर मार्च तक ऐसा नहीं हुआ, तो इमारतों के मालिक को सजा जरूर दी जाएगी।’

राष्ट्रपति के फरमान के बाद लोगों के बीच हड़कंप मच गया है। लोग अपने रोज के काम को छोड़कर अपने घरों और इमारतों को रंगने में जुट गए हैं। काहिरा शहर का बड़ा हिस्सा नील नदी के किनारे पर बसा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles