मिस्र के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद मुर्सी के बेटे के शव को अधिकारियों ने कड़ी सुरक्षा के बीच मुर्दाघर से निकाले जाने की अनुमति देने के बाद कल रात को दफनाया दिया है।

बिना शव के अदा की गई जनाजे की नमाज के बाद अधिकारियों ने अब्दुल्ला मुर्सी के शव काहिरा के ज़िनहोम मुर्दाघर से रिहा किया।

उनके भाई अहमद और उमर और उनकी माँ नजला महमूद  ने उनके शव को 17 जून को निधन हो जाने के बाद अपने पिता की कब्र के पास दफन किया।

परिवार के करीबी सूत्र ने अल-अरीबी अल-जदीद को बताया कि सुरक्षा अधिकारियों ने अब्दुल्ला के भाइयों को कड़ी चेतावनी दी थी ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि दफन के समय कोई बड़ी सभा नहीं हो।

गिज़ा गवर्नरेट में अल-अहराम के ओएसिस अस्पताल ने आधिकारिक मेडिकल रिपोर्ट में कहा कि अब्दुल्ला को बुधवार की रात 9:30 बजे दिल का दौरा पड़ने पर आपातकालीन विभाग में पहुंचे। यह उनके दिल की धड़कन बंद थी और उसकी श्वसन प्रणाली भी बंद हो गई थी।

मेडिकल टीमों ने उन्हे फिर से जीवित करने की कोशिश की लेकिन उन्हे रात 10 बजे मृत घोषित कर दिया गया।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन