syria1

syria1

सीरिया में सरकार समर्थित सेना ने पूर्वी घोउटा के हावश अल-दवाहिरा को अपने कब्जे में कर लिया है. हालांकि इस कार्रवाई के दौरान बीते सात दिनों में 500 नागरिकों की मौत हो गई. जिनमे बच्चें भी शामिल है.

इसी बीच संयुक्त राष्ट्र (यूएन) सुरक्षा परिषद ने सीरिया में 30 दिनों के युद्ध विराम के लिए सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित कर दिया है. बावजूद अभी भी बमबारी नहीं थमी है. विद्रोहियों के कब्जे वाले इस इलाके में सरकार और उसके सहयोगी रूस ने हर दिन पाँच घंटे के संघर्ष विराम पर सहमति जताई थी.

बता दें किसीरिया की राजधानी दमिश्क के पास करीब तीन लाख 93 हज़ार आम नागरिक फसे हुए हैं. हालांकि सीरियाई सरकार और उसके सहयोगी रूस ने हर दिन पाँच घंटे के संघर्ष विराम पर सहमति जताई है. ताकि प्रभावित इलाके में सहायता पहुंचाने और मेडिकल सुविधाएं मुहैया कराई जा सके.

इस बीच, फ्रांस ने रूस से आग्रह किया कि वो संघर्ष विराम को पूरे सीरिया में लागू करने के लिए सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल असद के साथ अपने करीबी संबंधों का इस्तेमाल करे.

सीरिया में संघर्ष पर नज़र रखने वाले ब्रिटेन स्थित समूह ऑब्ज़रवेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स ने बताया कि शनिवार देर रात जब संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में संघर्षविराम पर आम सहमति बनी उसके कुछ मिनट बाद ही पूर्वी ग़ूता में हवाई हमला किया गया.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें