stephen hawking 620x400

विश्व प्रसिद महान वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिंग का निधन हो गया है. वो 76 साल के थे. न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, ये जानकारी उनके पारिवारिक प्रवक्ता ने दी है.

8 जनवरी 1942 को फ्रेंक और इसाबेल हॉकिंग के घर में जन्मे स्टीफन हॉकिंग ने सापेक्षता (रिलेटिविटी), ब्लैक होल और बिग बैंग थ्योरी को समझने में अहम भूमिका निभाई थी. इसके अलावा उन्होंने ब्रह्मांड के कई रहस्यों पर कई किताबें भी लिखीं. ए ब्रीफ हिस्ट्री ऑफ टाइम उनकी काफी प्रसिद्ध किताब थी. वो थ्योरिटिकल साइंटिस्ट थे.

स्टीफन हॉकिंग

उनके बच्चों लूसी, रॉबर्ट और टिम ने इस बारे में आधिकारिक बयान जारी कर कहा कि “हम पिता के जाने से बेहद दुखी हैं. वह महान वैज्ञानिक थे और असाधारण इंसान थे, जिनका काम और विरासत आने वाले सालों में भी जाना जाएगा.”

साल 1959 में वो नेचुरल साइंस की पढ़ाई करने ऑक्सफ़ोर्ड पहुंचे और इसके बाद कैम्ब्रिज में पीएचडी के लिए गए. साल 1963 में पता चला कि वो मोटर न्यूरॉन बीमारी से पीड़ित हैं और ऐसा कहा गया कि वो महज़ दो साल जी पाएंगे.

यह एक तरह की न्यूरोलॉजिकल बीमारी है जिसकी वजह से दिमाग का मांसपेशियों पर नियंत्रण समाप्त हो जाता है. इतनी कम उम्र में इस बीमारी से पीड़ित होने के बावजूद उन्होंने कॉस्मॉलोजी के क्षेत्र में जितनी बड़ी खोजें की वो सभी के लिए प्रेरणा हैं.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?