कनाडा के क्‍यूबेक सिटी में जी-7 के सम्‍मेलन में अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने अपना कडा रुख बरकरार रखा। उन्होने अमेरिकी उत्‍पादों पर 100 फीसद तक टैरिफ लगाने पर सख्‍त ऐतराज जताया।

इस दौरान ट्रंप के निशाने पर भारत भी रहा। उन्होने भारत को व्‍यापार संबंध खत्‍म करने की भी धमकी देते हुए कहा कि अमेरिका ऐसे गुल्‍लक की तरह हो गया है, जिसपर हर कोई डाका डाल रहा है।

उन्‍होंने भारत को जवाबी कार्रवाई की चेतावनी देते हुए कहा कि अमेरिका भारतीय उत्‍पादों पर भी आयात शुल्‍क बढ़ा सकता है। उन्‍होंने कहा, ‘यह (आयात शुल्‍क) सिर्फ जी-7 तक सीमित नहीं है। मेरा कहने का मतलब है कि भारत में कुछ उत्‍पादों पर 100 फीसद टैरिफ लगाया जाता है। शत प्रतिशत। …और हमलोग किसी भी तरह का अतिरिक्‍त शुल्‍क नहीं लगाते हैं। हम ऐसा नहीं कर सकते हैं, इसलिए अमेरिका ऐसे कई देशों से बात कर रहा है।’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

india's prime minister narendra modi speaks at the opening plenary during the world economic forum (wef) annual meeting in davos

ट्रम्प ने प्रधानमंत्री मोदी को निशाना बनाते हुए कहा की ‘भारत से मुझे एक सज्जन ने फोन कर यह बताया की हमने हार्ली डेविडसन पर शुल्क घटा कर 50 फीसदी कर दिया है। ट्रम्प ने कहा की यहां अन्यायपूर्ण व्यवस्था है जिससे व्यापार में काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

उन्होंने यह भी कहा कि जब अमेरिका भारत की मोटरसाइकिलों पर किसी प्रकार का शुल्क नहीं लगाता तो भारत को भी शुल्क नहीं लगाना चाहिए। बता दे कि ट्रंप ने जी-7 के सदस्‍य देशों द्वारा तैयार घोषणापत्र को भी अस्‍वीकार कर दिया, जिसके कारण विश्‍व के सबसे समृद्ध देशों का समिट बिना किसी ठोस निष्‍कर्ष के ही समाप्‍त हो गया।

Loading...